Headache बीमारी से 50% से अधिक आबादी प्रभावित जिसमे ज्यादा महिलाएं होती हैं जाने क्यों

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Headache बीमारी से 50% से अधिक आबादी प्रभावित जिसमे ज्यादा महिलाएं होती हैं headache meaning in hindi, headache migraine, types of headache and reason Migraine Headaches, migraine vs headache, migraines in females, migraine in male,

हर साल 52 प्रतिशत से अधिक लोग सिरदर्द विकार से प्रभावित होता है, जिसमें से 14 प्रतिशत Migraine की शिकायत वाले होतें हैं। सिरदर्द एक एसी बीमारी हैं जो दुनिया भर में सबसे अधिक प्रचलित और पीड़ा देने वाली स्थितियों में से एक है, जो ज्यादातर 20 और 65 के बीच के लोंगों में देखी जाती है।

 

headache everyday

 

 

Headache-Migraine

 

 

सिरदर्द के वैश्विक प्रसार का अनुमान लगाने के लिए नॉर्वेजियन यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के शोधकर्ताओं ने 1961 और 2020 के अंत के बीच 357 प्रकाशनों की समीक्षा की। जिसमे लगभग 26 प्रतिशत लोगों ने तनाव-प्रकार के Headache की जानकारी दी और 4.6 प्रतिशत लोगों ने 15 से अधिक दिनों के लिए सिरदर्द होने की जानकारी दी।

हर छह में से एक व्यक्ति हर दिन सिरदर्द से पीड़ित होता है, और इनमे ज्यादातर महिलाएं होती हैं

इसके साथ ही अध्ययनों से यह भी संकेत मिला हैं कि दुनिया की लगभग 15.8 प्रतिशत आबादी को सिरदर्द की बीमारी होती है, और इनमे से एसे व्यक्ति भी होतें हैं जो Migraine होने की रिपोर्ट करते हैं। दुनिया भर में Headache की बीमारी का प्रसार बहुत अधिक है और विभिन्न प्रकार के बोझ और मानसिक तनाव कई लोगों को प्रभावित करते हैं।

 

headache daily क्यों होता हैं

 

Headache की बीमारी के रोकथाम के लिए और अधिक बेहतर उपचार के माध्यम से इस बोझ के साथ मानसिक तनाव को कम करने का प्रयास करना चाहिए। ज्यदातर देखा जाता हैं की पुरुषों की तुलना में महिलाओं में सिरदर्द अधिक होता हैं

 

सबसे अधिक देखनें में ये आया हैं की Migraine पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक होता हैं, और प्रति माह 15 या अधिक दिनों के लिए सिरदर्द पुरुषों की तुलना में महिलाओं में होता हैं।

 

देखा जाये तो Headache की बीमारी दुनिया भर में बहुत अधिक प्रचलित हैं और यह एक उच्च बोझ या बीमारी हो सकता है। सिरदर्द के विभिन्न कारणों का विश्लेषण करना और इनका सही तरीके से इलाज करना बहुत जरुरी हैं, सिरदर्द की बीमारी को कम करने के लिए मानसिक तनाव, शारीरिक, और सभी प्रकार की परेशानियों के बोझ को कम करना बहुत जरुरी हैं।

 

headaches कितने प्रकार के होते हैं? Migraine किस प्रकार का सिरदर्द है?

 

headache बहुत से प्रकार के होतें हैं, जिसमे Migraine एक प्राथमिक सिरदर्द है, जिसका अर्थ है कि यह एक अलग चिकित्सा स्थिति के कारण नहीं होता है। प्राथमिक सिरदर्द विकार नैदानिक निदान हैं,  एक माध्यमिक सिरदर्द एक अन्य स्वास्थ्य समस्या का लक्षण है।

 

Headache • Migraine sir dard ke karan

 

सिरदर्द से 1 से 2 दिन पहले ही माइग्रेन के लक्षण शुरू हो सकते हैं। जिनके लक्षण हो सकते हैं -भोजन की इच्छा, डिप्रेशन, गर्दन में अकड़न, थकान बार-बार जम्हाई लेना, चिड़चिड़ापन इसके साथ ही स्पष्ट रूप से बोलने में कठिनाई, हाथ या पैर में झुनझुनी सनसनी महसूस करना, नजर का कम होना एसे लक्षण हो सकते हैं.

माइग्रेन के लक्षण हर व्यक्ति में अलग-अलग हो सकते हैं। जब माइग्रेन का दर्द होता है। तो जी मिचलाना चक्कर आना या बेहोशी महसूस करना सिर के एक तरफ दर्द, या तो बायीं तरफ, दाहिनी तरफ, और धड़कते सिर दर्द उल्टी करना जेसे लक्षण होतें है.

महिला के मासिक धर्म चक्र के दौरान, गोलियों के नींद में बदलाव, पर्याप्त नींद न लेना शारीरिक तनाव गंध या इत्र धूम्रपान या धूम्रपान के संपर्क में आना तनाव और चिंता.

माइग्रेन को होने से रोकने के लिए इसका इलाज करने बहुत अधिक जरूरत होती है। जिसके लिये आपको डॉक्टर से उचित परामर्श लेना चाहिए। माइग्रेन एक गंभीर बीमारी हो सकती हैं इस लिए समय पर सही उपचार जरुरी है।

Spread the love

Leave a Comment